समुंदर की तरफ़ जाना भी!

ख़ुद को पहचान के देखे तो ज़रा ये दरिया,
भूल जाएगा समुंदर की तरफ़ जाना भी|

वसीम बरेलवी

Leave a Reply