चेहरे पे ख़ुशी सजा रहा हूँ!

अहबाब को दे रहा हूँ धोखा,
चेहरे पे ख़ुशी सजा रहा हूँ|

क़तील शिफ़ा

Leave a Reply