वतन से कई मील दूर था!

रोया था कौन कौन मुझे कुछ ख़बर नहीं,
मैं उस घड़ी वतन से कई मील दूर था|

मुनीर नियाज़ी

Leave a Reply