क्यूँ शौक़ से मिट्टी नहीं खाते!

हँसते हुए माँ-बाप की गाली नहीं खाते,
बच्चे हैं तो क्यूँ शौक़ से मिट्टी नहीं खाते|

मुनव्वर राना

Leave a Reply