आईना मुझ पे हँसा था पहले!

मैं ने तो ब’अद में तोड़ा था इसे,
आईना मुझ पे हँसा था पहले|

राजेश रेड्डी

Leave a Reply