मैं तो मगर प्यासा नहीं!

जा दिखा दुनिया को मुझ को क्या दिखाता है ग़ुरूर,
तू समुंदर है तो है मैं तो मगर प्यासा नहीं|

वसीम बरेलवी  

Leave a Reply