उस पे तिरा जमाल भी!

बात वो आधी रात की रात वो पूरे चाँद की,
चाँद भी ऐन चैत का उस पे तिरा जमाल भी|

परवीन शाकि

Leave a Reply