नींद के द्वारे जा के देखो!

जाग जाग कर उम्र कटी है,
नींद के द्वारे जा के देखो|

मुनीर नियाज़ी

Leave a Reply