हवा दिल में ख़्वाहिश जगाने लगी!

बदन पर नई फ़स्ल आने लगी,
हवा दिल में ख़्वाहिश जगाने लगी|

आदिल मंसूरी

Leave a Reply