क्या ऐसे भी हालात नहीं!

मुश्किल हैं अगर हालात वहाँ दिल बेच आएँ जाँ दे आएँ,
दिल वालो कूचा-ए-जानाँ में क्या ऐसे भी हालात नहीं|

फ़ैज़ अहमद फ़ैज़

Leave a Reply