किनारों को मिलाते हुए मर जाते हैं!

हम हैं वो टूटी हुई कश्तियों वाले ‘ताबिश,’
जो किनारों को मिलाते हुए मर जाते हैं|

अब्बास ताबिश