तू मुझे सोचना छोड़ दे!

खूबसूरत हैं आँखे तेरी, रात को जागना छोड़ दे,
खुद ब खुद नींद आ जायेगी, तू मुझे सोचना छोड़ दे|

हसन काज़मी