किसको इल्ज़ाम दूँ मैं!

किसको इल्ज़ाम दूँ मैं किसको ख़तावार कहूँ,
मेरी बरबादी का बाइस तो छुपा है मुझमें|

राजेश रेड्डी