निगह-ए-लुत्फ़ ने बर्बाद किया!

वो करें भी तो किन अल्फ़ाज़ में तेरा शिकवा,
जिनको तेरी निगह-ए-लुत्फ़ ने बर्बाद किया|

जोश मलीहाबादी

बरबाद करके देखते हैं!

सुना है रब्त है उस को ख़राब-हालों से,
सो अपने आपको बरबाद करके देखते हैं|

अहमद फ़राज़

टूटे हुए खिलौने का!

है पाश-पाश मगर फिर भी मुस्कुराता है,
वो चेहरा जैसे हो टूटे हुए खिलौने का |

जावेद अख़्तर