नाम मेरा लेके बुला ले मुझको!

मैं समंदर भी हूँ, मोती भी हूँ, ग़ोताज़न भी,
कोई भी नाम मेरा लेके बुला ले मुझको|

क़तील शिफ़ाई