प्यास की शिद्दत का अंदाज़ा नहीं!

वो समझता था उसे पाकर ही मैं रह जाऊँगा,
उसको मेरी प्यास की शिद्दत का अंदाज़ा नहीं|

वसीम बरेलवी