शायद कोई बात हो गई है!

मुद्दत से ख़बर मिली न दिल की,
शायद कोई बात हो गई है|

फ़िराक़ गोरखपु
री