दिल बोने की कोशिश की!

एक धुएँ का मर्ग़ोला सा निकला है,
मिट्टी में जब दिल बोने की कोशिश की|

गुलज़ार