प्यार की जादूगरी क्या चीज़ है!

उनसे नज़रें क्या मिलीं रौशन फ़ज़ाएँ हो गईं,
आज जाना प्यार की जादूगरी क्या चीज़ है|

निदा फ़ाज़ली