उसे ताज-महल कहते हैं!

उफ़ वो मरमर से तराशा हुआ शफ़्फ़ाफ़ बदन,
देखने वाले उसे ताज-महल कहते हैं|

क़तील शिफ़ाई