चाँदी जैसी लहरें गिरती!

जाने कितनी नदियों को धनवान बनाया झरनों ने,
चाँदी जैसी लहरें गिरती देखी हैं कोहसारों में।

नक़्श लायलपुरी