मैंने उनके भी गिरेबान फटे देखे हैं!

स्वर्गीय रामावतार त्यागी जी का एक गीत मैं आज शेयर कर रहा हूँ| त्यागी जी काव्य मंच पर अपनी उपस्थिति से अलग प्रकार का वातावरण सृजित करते थे| वे सामान्यतः खुद्दारी से भरी अभिव्यक्ति करते थे, वैसे प्रेम गीत भी उन्होंने बहुत सुंदर लिखे हैं| उनकी कुछ पंक्तियाँ जो अक्सर याद आती हैं, वे हैं … Read more

%d bloggers like this: